siteswebdirectory.comसाइकिल पेट्रोलिंग से पुलिस रखेगी चोरों पर निगरानी - Fadoo Post

चोरो पर अब साइकिल की मदद से रखी जाएगी नज़र

अपराधियों को  चोरी चाकरी करने से रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने साइकिल पेट्रोलिंग का नया तरीका निकला है .

इस दस्ते को यमुना पार पूर्वी दिल्ली की संकरी
गलियों और पार्कों में तैनात किया जाएगा. ये वो जगहें हैं जहां बाइक ले जाने में भी दिक्कत होती है.

इस खास साइकिल दस्ते के बारे में केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने बताया कि इससे जहां पर्यावरण ठीक रहेगा, वहीं पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य भी दुरुस्तहोगा.

साइकिल की खासियत

शुरुआती चरण में 65 पुलिसकर्मियों को यह जिमेदारी दी गई है और इन्हें पेट्रोलिंग में लगाया गया है. एक जवान के पास साइकिल में आगे लगी टोकरी में मेडिकल किट, एक डंडा, होल्डर में पानी की बोतल और कान में वॉयरलेस से जुड़ा ईयर फोन होगा.

. साइकिल में ट्यूब लैस टायर वाली होगी, इससे पंचर होने पर भी ड्यूटी में किसी भी तरह की कोई रुकावट नहीं होगी

**** ये भी पढ़ें ****

फूलों का रस बनेगा, घायल सैनिको के उपचार की दवा

जाने क्या है, खून की बारिश का रहस्य

ऐसे बनाएं घर में खुद का आकर्षक बोन्साई ट्री

***************

विशेषताएं 

साइकिल पेट्रोलिंग, Image Source: ibnlive.in

पेट्रोलिंग पर रवाना होने से पहले जवान को एक पेन और पेपर मिलेगा

दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने  साइकिल दस्ते के बारे में बताया कि इनकी संख्या और बढ़ाई जाएगी. इससे तंग गलियों में  भी आने वाली शिकायतों पर तुरंत एक्शन लिया जाएगा. इस दस्ते से जहां कानून व्यवस्था चौकस होगी, वहीं जनता के साथ पुलिस का कनेकसन  भी बढ़ेगा.

आम जनता को भी इस मुहीम  से साइकिल को अपने दिनचर्या में लाने की प्रेरणा मिलती है.

 

loading...
(Visited 114 times, 1 visits today)

Related posts:

यहाँ हुई अनोखी शादी, बारातियों को हेलमेट पहनाकर किया स्वागत
ये है 10 लाख का टीपू गधा , ख़ासियत जानकर दंग रह जाओगे
दि ओरिएण्टल इंसयोरेंस कंपनी लिमिटेड में निकली बम्पर भर्ती
राम रहीम को कोर्ट ने सुनाई 10 साल की सज़ा ,
ये 6 साल का मास्टर शेफ़ कमाता हर महीने 1 लाख रूपये
जब बाबा ने खुलेआम युवती को किया किस , फिर जाने क्या हुआ
रोबर्ट वाड्रा दुनिया के नामी दामादों में शुमार
ट्रेनिंग के लिए 3 लाख युवा जायेंगे जापान , पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar