12 सितंबर को उज्जैन में अमित शाह, पालक-बूथ संयोजकों की लेंगे बैठक

भोपाल : भले ही विधानसभा चुनावों का परिदृश्य साफ़ नहीं हुआ हो पर प्रदेश में कांग्रेस और सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा ने अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है. अब प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव का सियासी बिलगुल तो बच चूका है. जिसके लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों में हलचल देखी जा सकती है.

जहाँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी जन आशीर्वाद यात्रा से जनसंपर्क साथ रहे हैं, तो वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कांग्रेस के कई बड़े नेता भाजपा के विरोध में अपनी परिवर्तन रैली कर रहे हैं. दोनों ही पार्टियों की सभाओं से साफ़ लग रहा है कि प्रदेश में इस बार के विधानसभा चुनाव काफी दिलचस्प होने वाले हैं.

जहाँ 25 सितम्बर को राजधानी भोपाल में भाजपा कार्यकर्ताओं का महाकुम्भ आयोजित किया जा रहा है तो वहीं 12 सितंबर को पार्टी अध्यक्ष अमित शाह उज्जैन में पालक बूथ संयोजक सम्मेलन में आएंगे. जहाँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत कई वरिष्ठ नेता शरीक होंगे. ये सभी चिमनगंज कृषि उपज मंडी में पालक-बूथ संयोजकों के संभागीय सम्मेलन को संबोधित कर उनका मार्गदर्शन करेंगे. चुनाव को लेकर इन्हें क्या जिम्मेदारी निभाना है. किस रणनीति से किस लक्ष्य के लिए काम करना, इनके बारे में सम्मेलन में बताया जाएगा.

भाजपा के नगर मीडिया प्रभारी वीरेंद्र काले ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के कार्यक्रम की तैयारियों के सिलसिले में मंगलवार सुबह प्रदेश संगठन महामंत्री सुभाष भगत ने संभाग के पदाधिकारियों के साथ त्रिवेणी क्षेत्र स्थित आंजना परिसर में बैठक की.भगत ने बैठक के दौरान शाह के आगमन पर किसे कौन सी जिम्मेदारी दी जाए, इस पर चर्चा की। शाह के शहर आगमन को भोपाल में पीएम नरेंद्र मोदी के 25 सितंबर को होने वाले कार्यकर्ताओं के महाकुंभ की तैयारियों से जोड़कर भी देखा जा रहा है. इधर, भाजपा नगर इकाई द्वारा 9 सितंबर को हर बूथ पर 100 सदस्य बनाने का कार्यक्रम भी आयोजित किया जाएगा.

बता दें कि इस साल मध्य प्रदेश, राजस्थान व छत्तीसगढ़ में चुनाव होने हैं. इन तीनों प्रदेशों भाजपा की सरकार पर इस बार कांग्रेस अपनी पूरी रणनीति के साथ चुनावी मैदान में उतर रही है. जिसका असर तीनों प्रदेश में काफी बेहतर दिख रहा है. कांग्रेस के बढ़ते रुतवे को देखते हुए भाजपा किसी भी प्रकार से कोई भी कमी अपने चुनाव प्रचार और रणनीति में नहीं छोड़ना चाहती है.

loading...
Skip to toolbar