जब बहन के चूमते ही ब्रेन डेड बच्ची ज़िन्दा हो उठी , जाने …

वैसे तो डॉक्टर्स किसी इंसान की ज़िन्दगी के लिए भगवान से कम नहीं होते पर कई बार डॉक्टर्स में कुछ ऐसे मामलों में अपने हाथ खड़े कर देते हैं.ऐसे में उस मरीज़ का बच जाना किसी चमत्कार से कम नहीं होता और  एक ऐसा ही मामला जानकर आप  हैरत में पड़ जाएंगे. जब ब्रेन डेड घोषित बच्ची ज़िन्दा हो उठी. जब बहन के चूमते ही ब्रेन डेड बच्ची ज़िन्दा हो उठी , जाने …

डॉक्टर्स ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था

Image Source : mirror.co.uk
मामला ब्रिटेन का है जहाँ  एक बच्ची को डॉक्टरों ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था, लेकिन उसकी बड़ी बहन के चुमते ही वह जिंदा हो गई. इस चमत्कार को देखकर डॉक्टर से लेकर बच्चों के मां-पिता भी अचंभित रह गए थे.
पोपी स्मिथ अब करीब दो साल की हो गई है, लेकिन उसे जन्म के बाद जिंदा रहने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा. जन्म के पहले साल में पोपी ने बेहद मुश्किल घड़ी देखें हैं. एक वक्त ऐसा था, जब डॉक्टरों ने भी आस छोड़ दी थी. जन्म के कुछ दिन बाद बच्ची पोपी को कई सारी बिमारियां एक साथ हो गई थीं.

बहन के चुमते ही वह जिंदा हो उठी थी बच्ची

Image Source : mirror.co.uk
हद तो तब हो गई जब पोपी हाइपोसिक ब्रेन डैमेज का शिकार हो गई. डॉक्टरों ने उसके जिंदा होने की सारी उम्मीदें छोड़ चुके थे. इसे कुदरत का करिश्मा कहें या कुछ और, पोपी की बड़ी बहन ने उसके पेट पर किस किया, तो चमत्कार हो गया.
बहन के चूमते ही ब्रेन डेड बच्ची ज़िन्दा हो उठी , जाने ...
Image Source : mirror.co.uk
मिरर की खबर के मुताबिक, 29 सप्ताह गर्भ में रहने के बाद ही पोपी स्मिथ का जन्म हो गया था. जन्म के समय वह महज दो पौंड की थी. डॉक्टरों ने उसे तीन महीने तक भर्ती रखा. जब वह अपने माता-पिता, एमी और स्टीफन के साथ घर गई, तो भी चीजें बिल्कुल सही नहीं थीं. तभी मां-पिता को लगा कि उनकी बेटी दूध को नहीं पी पा रही है. मेडिकल चेकअप में पता चला कि वह मोबियस सिंड्रोम से पीड़ित थी. मालूम हो कि मोबियस सिंड्रोम एक ऐसी बीमारी है, जिसमें चेहरे की मांसपेशियां ठीक से काम नहीं करती हैं. इसके बाद डॉक्टरों ने बताया कि पोपी का विकास सामान्य बच्चों की तरह नहीं होगा.

तभी एक दिन डॉक्टरों ने बताया कि वह सीवियर हाइपोक्सिक ब्रेन डैमेज की शिकार हो गई. बचना मुश्किल था. डॉक्टरों ने पॉपी को ब्रेन डेड घोषित कर दिया. सब रो रहे थे. इसी बीच पॉपी की बहन मैसी उसके पास गई और पॉपी के पेट पर किस करने लगी. थोड़ी देर में पॉपी के पैर-हाथ में हलचल हुई. डॉक्टर भी इसे चमत्कार मान रहे हैं.

Image Source : mirror.co.uk

पोपी के हालत में तेजी से सुधार दिखने लगा. उसने 15 महीने की उम्र में चलना शुरू कर दिया, जो समय से पहले जन्मे बच्चे के लिए बड़ी बात है. यह बदलाव देखना सबके लिए चौंकाने वाला था.

loading...

Rajdeep Raghuwanshi

नमस्ते , मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूँ और मुझे एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और ह्यूमर पर लिखना पसंद है !

Skip to toolbar