क्या सच में लड़के ,लड़कियों से स्मार्ट होते है …….

भारतीय समाज में लड़का और लड़कियों में भेद सदियों से चला रहा है और सदैव उनकी बौद्धिक क्षमता को कमजोर समझा जाता रहा है. दरअसल ऐसा हैं नहीं जितना दिमाग लड़के उपयोग करते हैं उतना ही लड़कियां करती हैं. क्या सच में लड़के ,लड़कियों से स्मार्ट होते है

फिर यह प्रश्न हमेशा बना रहा है की लड़का स्मार्ट होते हैं या लड़कियां ?

तो आइये जानते हैं….

साइंस पत्रिका ने अमेरिकी मनोवैज्ञानिकों के हवाले से लिखा है कि समाज में लड़कियों और लड़कों की काबिलियत पर किए जाने वाले अंतर ने बच्चों के दिमाग में भी जगह बना ली है. नतीजतन अब बच्चे इस अंतर को स्वीकार करने लगे हैं. क्या सच में लड़के ,लड़कियों से स्मार्ट होते है

boy and girl
image source : previews.123rf

इलिनॉय यूनिवर्सिटी की लिन बियान और उनकी टीम ने चार से सात साल की उम्र वाले करीब 200 बच्चों को एक कहानी सुनाई. यह कहानी एक बहुत स्मार्ट इंसान से जुड़ी हुई थी लेकिन इसके लिंग पर कोई चर्चा नहीं की गई थी. जब बच्चों से इसके मुख्य किरदार के बारे में पूछा गया तो पांच साल की उम्र तक के बच्चों ने इस पर कोई खास राय जाहिर नहीं की, लेकिन छह साल और इससे बड़ी उम्र की लड़कियों की राय में यह इंसान कोई मर्द ही रहा होगा.

दिलचस्प बात यह भी है कि लड़कियां  ये तो मानती हैं कि अच्छे ग्रेड लड़कियों को ही मिलेंगे लेकिन इसके बाद भी उनका मानना है कि लड़के ज्यादा स्मार्ट होते हैं. शोधकर्ताओं ने जब लड़कियों को स्मार्ट गेम और मेहनत वाले गेम में से एक गेम चुनने को कहा तब भी लड़कियों ने मेहनत वाले गेम को चुना.

इस शोध में टीम ने पाया कि लड़िकयों को अपनी ही क्षमताओं पर भरोसा नहीं होता और जिंदगी में उनके द्वारा चुने गए पेशे पर भी यह सोच हावी रहती है. शोधकर्ताओं के मुताबिक करियर से जुड़े विषयों में भी यह सोच इतनी अधिक नजर आती है कि लड़कियां गणित और भौतिकी जैसे विषयों से दूरी रखती हैं. क्या सच में लड़के ,लड़कियों से स्मार्ट होते है

लड़के और लड़कियां
image source : iacpublishinglabs.com

शोधकर्ताओं का सुझाव है कि टीवी पर आने वाले ड्रामा, कॉमेडी और कार्टून शो में महिला किरदारों को इन पेशे से जुड़ा हुआ दिखाया जाना चाहिए ताकि बच्चों की इस सोच को रोका जा सके.

बियान कहती हैं कि हमें मेहनत और कोशिशों को ज्यादा अहमियत देनी चाहिए और किसी को भी स्मार्ट कहने से बचना चाहिए.

loading...
Skip to toolbar