सेंसर बोर्ड के सदस्य की मांग संजय लीला भंसाली पर चले राजद्रोह का केस

पद्मावती की शूटिंग से लेकर उसके रिलीज़ होने तक विवादों का घेरा बढ़ता ही जा रहा है, हाल ही में सेंसर बोर्ड के एक सदस्य ने विवादित बयां दिया है जिससे यह इस फिल्म की चर्चा और बढ़ गयी है. बीजेपी नेता और भारतीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के सदस्य अर्जुन गुप्ता ने कहा है कि उन्होंने गृहमंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर संजय लीला भंसाली पर राजद्रोह का मुकदमा चलाने की अपील की है.

source: instagram

वहीँ संजय लीला भंसाली ने एक बयान में यह कहा है कि फिल्म में कोई भी ऐसी चीज़ नहीं दिखाई गयी है जिससे किसी भी इन्सान की भावना आहात हो. वहीँ राजपूतों की मान-मर्यादा का भी ख्याल रखा गया है. हाल ही में भंसाली ने एक विडियो जारी करके यह बात साफ़ की है कि फिल्म में ऐसा कुछ भी नहीं है जिनकी अफवाह उड़ाई गयी है. इस विडियो को रणवीर,शाहिद और अर्जुन कपूर ने भी शेयर किया है.

भंसाली ने कहा है कि- मैं रानी पद्मावती की कहानी से हमेशा से प्रभावित रहा हूं और यह फिल्म उनकी वीरता, उनके बलिदान को नमन करती है. पर कुछ अफवाहों की वजह से यह फिल्म विवादों का मुद्दा बन चुकी है. अफवाह यह है कि फिल्म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई ड्रीम सीक्वेंस दर्शाया गया है. मैंने पहले ही इस बात को नकारा है। लिखित प्रमाण भी दिया है इस बात का। फिर दोहरा रहा हूं कि हमारी फिल्म में ऐसा कोई सीन नहीं है जो किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाता हो.

यह भी पढ़ें: 

पद्मावती 1 दिसम्बर को पूरे देश में रिलीज़ होने वाली है, लेकिन वहीँ इस फिल्म का पुरजोर विरोध भी चल रहा है, उमा भारती ने ख़त लिखकर पद्मावती की आलोचना की है. हीं बीजेपी सांसद चिंतामणि मालवीय ने फिल्म पर विवादित बयान देते हुए कहा कि फिल्मी दुनिया में “रोज शौहर बदलने वालों के लिए जौहर की कल्पना मुश्किल है.” इतने   सारे विवादों से घिरे होने के बाद देखना यह है कि फिल्म की रिलीज़ पर क्या असर  पड़ता है.

loading...
Skip to toolbar