अब फेसबुक पर आपका अकाउंट और डेटा रहेगा सुरक्षित …

आज फेसबुक हमारी ज़िन्दगी का एक ऐसा हिस्सा बन गया है कि इसके बगैर एक पल अकेला रहना पाना  शायद ही किसी के लिए मुमकिन  हो और हो भी क्यूँ न ये हमसे हजारों किलोमीटर बैठे हमारे सगे सम्बन्धियों से जोड़े जो रहता है.
आज फेसबुक ने इन्सान के जीवन में खुशियाँ भरी हैं वहीँ उतना ही उसकी प्राइवेसी पर ख़तरा बढ़ गया है यही कारण है आये दिन साइबर हैकिंग से जुड़े कई मामले सामने आते रहते हैं. पर इस कमी को पूरा करने के लिए हाल ही में  सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने अपने यूजर्स के लिए एक नया फीचर पेश किया है।

फेसबुक ने पेश किया ‘सिक्यूरिटी की’

फेसबुक

हैकर्स से सोशल अकाउंट को बचाने के लिए फेसबुक ने एक नया लॉगिन विकल्प पेश किया है जिसका नाम ‘सिक्योरिटी की’है। इस की सिक्योरिटी विकल्प में किसी नए ब्राउजर से लॉगिन करने से पहले यूजर्स को एक खास सुरक्षा कोड डालना होगा जिससे आपका आपके अकाउंट पर पूरा कंट्रोल होगा। इस सुविधा के बाद ना तो आपको अपने अकाउंट के  हैक होने का खतरा रहेगा और आपके डेटा को भी कोई नहीं चुरा सकेगा।

**** ये भी पढ़ें ****

अगर इस भूलभुलैया वेबसाइट पर गये, तो कसम से खुद को भूल जायेंगे

क्या चंद्रमा पर बियर बनाई जा सकती है ?

BHIM एप्प का ऐसे करें आसानी से इस्तेमाल

****************

नए सुरक्षा फीचर चाहने वाले लोगों को ‘फिजिकल की’ के जरिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा और फिर आप इस डिवाइस को यूबिको जैसी साइट से खरीद सकते हैं। इसके आपके कंप्यूटर में इंस्टॉल होते ही आपके फेसबुक अकाउंट को हैक करना कठिन हो जाएगा। इन ‘यूएसबी की’ को अभी केवल गूगल क्रोम और ऑपेरा ब्राउसर पर ही इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह  फीचर केवल डेस्कटॉप यूजर्स के लिए ही है। इसे यूज करने के लिए आपको गूगल क्रोम और गूगल ऑथेन्टीकेटर का लेटेस्ट वर्जन रखना होगा उसके बाद सिक्यूरिटी सेटिंग में जाकर फिजिकल यूएसबी कीज के नंबर ऐड करने होंगे। गौर हो कि  दुनियाभर फेसबुक के करीब 180 करोड़ फेसबुक अकाउंट हैं जिनमें से रोजाना फेसबुक के करीब 60 लाख यूजर्स के अकाउंट हैक होते हैं।

 

 

loading...

Brajendra Sharma

नमस्ते, मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे देशी-विदेशी, करियर, से जुड़ी स्टोरीज लिखना अच्छा लगता हैं एवं मुझे ऐसी स्टोरीज लिखना भी पसंद है जो आपको अच्छी लगें. इसलिए आप मुझें comment करके बता सकते हैं.

Skip to toolbar