जमीन में गढ़ रहे किसान, साथ दे रही महिलाएं

आज तक आपने किसानों को सिर्फ अपनी फसल दिखाकर छोटा मोटा प्रदर्शन देखा होगा. लेकिन आपको बता दें कि नींदड़ गांव के ये किसान पिछले 18 दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन गांधी जयंती के ख़ास मौके पर इन्होंने अपने प्रदर्शन को एक अनोखा रूप दे दिया. जमीन में गढ़ रहे किसान, साथ दे रही महिलाएं ..

दरअसल जयपुर के पास नींदड़ गांव के किसान जमीनें जब्त करने के विरोध में एक अनोखे तरीके से प्रदर्शन कर रहे हैं. यह विवाद 1350 हेक्टेयर भूमि से जुड़ा है, जिसे जयपुर विकास प्राधिकरण ने अपनी आवास परियोजना के लिए जब्त कर लिया है.

आपको बता दें कि किसान इस अनोखे प्रदर्शन के लिए गर्दन तक गहरे गड्ढों में बैठकर जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. किसानों ने इस प्रदर्शन को ‘जमीन समाधि सत्याग्रह’ नाम दिया है.

इस आंदोलन के संयोजक कैलाश बोहरा ने कहा कि, ‘यह सत्याग्रह तब तक खत्म नहीं होगा, जब तक राजस्थान सरकार हमारी मांगों से सहमत नहीं हो जाती’. इस आन्दोलन ने अब एक नया मोड़ ले लिया हैं, क्योकि अब इस आंदोलन में गांव के पुरषों के साथ – साथ गाँव की औरतें भी शामिल हो गई हैं.

loading...

Brajendra Sharma

नमस्ते, मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे देशी-विदेशी, करियर, से जुड़ी स्टोरीज लिखना अच्छा लगता हैं एवं मुझे ऐसी स्टोरीज लिखना भी पसंद है जो आपको अच्छी लगें. इसलिए आप मुझें comment करके बता सकते हैं.

Skip to toolbar