एक जोकर की याद में मनाते हैं यहाँ के लोग उत्सव….

फादर्स ऑफ़ जोकर के नाम से मशहूर जोसेफ ग्रिमाल्डी की याद में ब्रिटेन के लोग आज भी उत्सव मनाते हैं जिसमे वो जोकर की पोशाक में मनोरंजन करते हैं.

जोसेफ ग्रिमाल्डी ब्रिटेन के सबसे मशहूर जोकर थे. दिसंबर 1778 में उनका जन्म हुआ, चार साल की उम्र में उन्होंने स्टेज पर कदम रखा था. सैडलर्स वेल्स थिएटर में उनकी शुरुआत बतौर डांसर हुई थी.

ग्रिमाल्डी ने 1806 में कॉन्वेंट गार्डन थिएटर के साथ काम शुरू किया और इसी के साथ उनकी शोहरत बुलंदियों को छूने लगी.

**** यह भी पढ़े ****

दुनिया की 10 सबसे ख़तरनाक स्पेशल फोर्सेज, जिनका 1 कमांडो पूरी आर्मी के बराबर होता है !

35 साल बाद भी रूस में सुपरहिट है ये बॉलीवुड गाना, देखें विडियो….

************

ग्रिमाल्डी ने सफेद मुंह वाला मेकअप अपनाया जिसे आज भी हर तरह का जोकर माइम यानी मूक अभिनय में इस्तेमाल करता है.

जब वह अपनी बुलंदियों पर थे तब उनका कोई सानी नहीं था. कॉमेडी के मामले में कोई उन्हें टक्कर नहीं दे पाता था.45 साल की उम्र में ही उन्हें संन्यास लेना पड़ा. उन्हें एक बीमारी हो गई जिस कारण उनका शरीर वक्त से पहले ही बूढ़ा होता गया.

जोकर

1837 में 58 साल की उम्र में वह दुनिया से विदा हो गए. उनके संस्मरण को मशहूर साहित्यकार चार्ल्स डिकिन्स ने संपादित किया

जोसेफ ग्रिमाल्डी ने ही ज़ोकर परंपरा की नींव रखी. उन्हें ब्रिटेन आज भी इस परंपरा के संस्थापक के रूप में याद करता है. हर साल फरवरी के पहले रविवार को लोग जोकर का मेकअप करते हैं और एक चर्च में सर्विस के जरिए ग्रिमाल्डी को याद करते हैं.

source: dw.com

loading...
(Visited 26 times, 1 visits today)

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar