प्लास्टिक की बोतलों से बनाया महल , किला या सबक

प्लास्टिक की बोतलों से बनाया महल

दुनिया भर में अलग अलग तरह के महल या किलों के बारे में सुना होगा, लेकिन कभी प्लास्टिक से बने महल के बारे में सुना है. सुनकर ही ये लगता है जैसे किसी ने मजाक किया हो लेकिन ये बात सही है.

पनामा में इसला कोलोन के ट्रॉपिकल इलाके में करीब 40,000 पुरानी बोतलों इस महल को तैयार किया है यहाँ के रोबर्ट ने. जिनका मकसद है प्लास्टिक के बढ़ते कचरे की और लोगों का ध्यान खीचना. हर साल प्रकृति के खजाने से लबालब पनामा को देखने यहां हजारों टूरिस्ट पहुंचते हैं. यहां मैनग्रोव जंगल हैं तो साफ पानी के बीच भी. लेकिन कचरे के सही निबटारे की व्यवस्था नहीं होने के कारण अक्सर प्लास्टिक यहां आ पहुंचता है.

लाखोँ की मात्र में होता है कचरा

62 वर्गकिलोमीटर में फैले इस छोटे से द्वीप पर आने वाले प्लास्टिक बोतलों के कचरे की मात्र करीब 15लाख है. रॉबर्ट केवल पानी वाली बोतलें इकट्ठा करते हैं और उनसे इमारत बनाते हैं. बाकी तरह की बोतलों में काफी तेल होता है जो आग पकड़ सकता है.

****यह भी पढ़ें****

अन्धविश्वास की वजह से हुई फ्लाइट में देरी, घटना कर देगी हैरान

कैसे जिन्दा रहा ये शख्स 256 साल तक , जाने

******

किले की बाहरी दीवारों पर ऐसी कला रची गयी है जिससे दुनिया भर के सागरों में बढ़ते प्लास्टिक के कचरे की ओर ध्यान जाता है. हर साल बनने वाले करीब 30 करोड़ टन प्लास्टिक का एक बहुत ही छोटा हिस्सा रिसाइकिल किया जाता है.

प्लास्टिक की बोतलों से बनाया महल

स्टील और तारों की सहायता से बनने वाले इस पिंजरे में बोतले लगाई जाती है. फिर उस पर सीमेंट की परतें चढ़ाई जाती है. दीवार की हर यूनिट में करीब 300 बोतले लग जाती है. तिकोनी खिडकियों का पैटर्न अलग टाइप का है.

रॉबर्ट यहां एक ट्रेनिंग सेंटर खोलना चाहते हैं जहां लोगों को प्लास्टिक बोतल के कचरे जैसे सस्ते माल से ऐसी इमारतें बनाना सिखाया जा सके. बोतल के अंदर की हवा इमारत को गर्म होने से बचाती है. एक साधारण बंगले को बनाने में प्लास्टिक की करीब 14000 बोतले लग जाती हैं.

loading...
Skip to toolbar