रामदेव से नहीं छीन सकता कोई पतंजलि

हाल ही में चार आयुर्वेद कम्पनियों और एक ट्रस्ट के पतंजलि नाम से उत्पाद बनाने और उनके विज्ञापन पर हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है. क्योंकि यह योगाचार्य रामदेव की कंपनी का ट्रेडमार्क है.

patanjali
outsource

जस्टिस राजीव सहाय एंडलॉ ने यह आदेश रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड की याचिका पर दिया, जिसने कहा था कि उसके ट्रेडमार्क के नाम से कर्मवीर आयुर्वेद, डॉ. जी बायॉटेक, धात्रि और दिवाई ग्रामोद्योग सेवा संस्थान नाम की चार फर्म अपने उत्पाद बना रही हैं और बेच रही हैं.

पतंजलि ने यह भी तर्क दिया कि ये फर्म दावा कर रही हैं कि वे ऐसा महर्षि पतंजलि वैदिक फाउंडेशन नामक ट्रस्ट की मंजूरी के साथ कर रही हैं. चारों कंपनियों और ट्रस्ट को पतंजलि ट्रेडमार्क का इस्तेमाल करने से रोकते हुए अदालत ने उन्हें नोटिस जारी किया और सुनवाई की अगली तारीख 16 मई तक उनका जवाब मांगा है.

loading...
Skip to toolbar