अमेरिका में पाक का बैंक हुआ बैन, इतने का लगा जुर्माना

हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान को आतंकवादियों को फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के कारण अमेरिका में पाक का बैंक हुआ बैन. अमेरिकी बैंकिंग नियामकों ने 40 साल से न्यू यॉर्क में मौजूद इस्लामाबाद के ‘हबीब बैंक’ को टेरर फंडिंग मामले में अपना दफ्तर बंद करने का आदेश दिया है. आपको बता दें कि हबीब बैंक पाकिस्तान का सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक है.

न्यू यॉर्क के बैंकिंग अधिकारियों के मुताबिक लगातार कई निर्देशों को अनदेखा और ऐसे ट्रांजेक्शंस होने का शक है जिन्हें आतंकवाद, मनी लॉन्ड्रिंग या दूसरी गैर कानूनी गतिविधियों में इस्तेमाल किया गया हो.

अमेरिका में विदेशी बैंकों के नियंत्रक स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ फाइनैंशल सर्विसेज ने हबीब बैंक पर 22.5 करोड़ डॉलर (1,400 करोड़ रुपये) का जुर्माना ठोका. हालांकि बैंक पर पहले 62.96 करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाने वाला था, लेकिन बाद में इसे कम कर दिया गया. हबीब अमेरिका में सन 1978 से काम कर रहा है और साल 2006 में कुछ संभावित अवैध ट्रांजेक्शंस के शक होने के बाद बैंक को इस तरह के लेनदेन पर सख्त होने का निर्देश दिया गया था लेकिन बैंक इस निर्देश का पालन करने में असफल रहा.

 

हबीब बैंक के लिए सबसे बड़ी समस्या तब उठ खड़ी हुई जब साल 2016 से ही इस बैंक ने बिना किसी जांच के ही कई अपराधियों और प्रतिबंधित संस्थाओं के ट्रांजैक्शंस करने शुरू कर दिए थे, जिनकी संख्या हजारों में बताई जा रही है. हबीब बैंक के जरिए सऊदी के प्राइवेट बैंक (अल रजही) के साथ अरबों डॉलर का लेन-देन हुआ.

न्यूयॉर्क के वित्तीय विभाग का कहना है कि केवल न्यूयॉर्क में हबीब बैंक की शाखा बंद करने से ही कुछ नहीं होगा बल्कि अभी तो एचबीएल को इस अनैतिक कामों की पूरी कीमत चुकानी होगी.

loading...

Brajendra Sharma

नमस्ते, मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे देशी-विदेशी, करियर, से जुड़ी स्टोरीज लिखना अच्छा लगता हैं एवं मुझे ऐसी स्टोरीज लिखना भी पसंद है जो आपको अच्छी लगें. इसलिए आप मुझें comment करके बता सकते हैं.

Skip to toolbar