धोनी की कैप्टेनसी छोड़ने के बाद, इंडिया टीम को दिखा नया सचिन

क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की वन डे और टी-20 से कप्तानी छोड़ने का ग़म तो सारी इंडिया को पर इसी बीच इंडिया टीम को भविष्य का सचिन भी नज़र आ गया है जी हाँ दोस्तों हम जानते धोनी की इस निर्णय से काफी दुखी हुए होंगे पर इस दुःख को कम करने के लिए हम आपको इंडिया टीम के भविष्य  के सचिन के बारे में भी बता देता हैं .

दोस्तों हम बात कर रहे हैं 17 साल के पृथ्वी शॉ की इस प्रतिभवान नन्हे क्रिकेटर ने गुरुवार को मुंबई मे हो रहे रणजी ट्राफी के अपने पहले ही मैच में  शतक ठोककर कर महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर को रिप्लेस करने का सपना इंडिया टीम को दिखा दिया है. पृथ्वी को हुबहू सचिन तेंदुलकर की परफॉर्म जैसा माना जा रहा है .

तमिलनाडु के साथ हुए इस मैच मे पृथ्वी ने सचिन तेदुलकर के पहले मैच की तरह परफॉर्म करके मुंबई और सारी इंडिया को सचिन के रिप्लेस होना का सपना दिखा. पृथ्वी को तमिलनाडु के खिलाफ सेमीफाइनल मैच मे मुंबई की तरफ से  जवाबी टक्कर में सीधा अपना शत जड़कर मुंबई को फाइनल में जगह दिलाई.

पृथ्‍वी के अपने पदार्पण मैच में ही बनाए गए शतक से मुंबई ने आज यहां तमिलनाडु को छह विकेट से हराकर 46वीं बार रणजी ट्रॉफी के फाइनल में जगह बनाई जहां उसका सामना गुजरात से होगा. फाइनल 10 से 14 जनवरी के बीच इंदौर में खेला जाएगा.

आपको बता दें की कि सचिन तेंदुलकर ने  भी अपने पहले रणजी मैच में शतक बनाकर धमाका किया था. 10 दिसंबर, 1988 को मुंबई की ओर से सचिन ने अपना पहला रणजी मैच खेला था. गुजरात के खिलाफ इस मैच में उन्होंने 129 गेंदों का सामना करते हुए 100 रन बनाए थे, जिसमें 14 चौके शामिल थे. बाद में उन्‍होंने ईरानी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी के अपने पहले मैच में भी शतक जड़ा था. तीन साल पहले स्कूली मैच में 546 रन की पारी खेलकर चर्चा में आने वाले पृथ्वी ने 120 रन की जबर्दस्त पारी खेली जिससे 41 बार के चैंपियन मुंबई ने खेल के पांचवें और अंतिम दिन आज यहां 251 रन का लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर दिया.

 

 

loading...
(Visited 26 times, 1 visits today)

Rajdeep Raghuwanshi

नमस्ते , मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूँ और मुझे एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और ह्यूमर पर लिखना पसंद है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar