गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है यह बरगद का पेड़

आपने बरगद के कई विशाल पेड़ देखें होंगे. लेकिन कोलकाता के निकट हावड़ा के आचार्य जगदीश चन्द्र बोस  इंडियन बोटेनिक गार्डन में स्थित इस पेड़ को देखकर आप हैरान हो जायेंगे. यह पेड़ इतना विशाल है कि इसने अपना नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करा रखा है.

तक़रीबन ढाई सौ साल पुराना यह पेड़ 1.5 हेक्टेयर में फैला हुआ है. इस पेड़ को देखने और घुमने के लिए कई पर्यटक आते हैं और यह पेड़ उन्हें आकर्षित करता है.

****यह भी पढ़ें****

इस मंदिर में चूहे भी होते हैं नतमस्तक

ओह्ह तेरी ! यहाँ टमाटर की पहरेदारी हो रही है बंदूक की नोक पर

******

इस पेड़ की मुख्य जड़ 1935 में ख़तम हो गयी थी. क्योंकि इसने दो बड़े तूफानों को झेला था. इस कारण वह कमजोर और बीमार हो गया था.

इस जड़ तक पहुंचना किसी भी विजिटर के लिए मुश्किल है. सामान्यतः लोग उस पेड़ के आस पास ही भ्रमण कर पाते हैं. इस पेड़ के आस पास पार्क भी बना दिया है जहाँ पर लोग अक्सर घुमने आते हैं.

वनस्पति रूप में इसे फिकस बेंगलेंसिस के रूप में जाना जाता है. यह  पेड़ मूल रूप से भारत में ही पाया जाता है.

loading...
(Visited 39 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar