1000 हीरों के चूर से बनी है ये ‘रोल्स रॉयस’ कार……

वैसे से तो रोल्स रॉयस का कारों में नाम ही काफ़ी  है क्यूंकि ये सबसे महँगी  और रॉयल कार ब्रांड हैं . इसे ख़रीद न तो दूर इसमें बैठना ही शान समझा जाता है रोल्स रॉयस कारें अपने स्पेशल फीचर और डिज़ाइन के लिए ऑटोमोबाइल की दुनिया में सबसे ज्यादा मशहूर हैं पर हम आपको एक ऐसी रोल्स रॉयस कार के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि बाकी और रोल्स रॉयस कारों से भी बेहतरीन है.1000 हीरों के चूर से बनी है ये ‘रोल्स रॉयस’ कार…

ये रोल्स रॉयस कार और रोल्स रॉयस कारों से इसलिए भी स्पेशल है क्यूंकि ये 1000 असली हीरों के चूर से तैयार किये गये पेंट से रंगी गयी है जिससे यह जबदरस्त शाइनिंग कर रही है.

1000 हीरों के चूर से बनी है ये ‘रोल्स रॉयस’ कार…

दरअसल इन दिनों जिनेवा में ‘इंटरनेशनल मोटर शो 2017’ चल रहा है जहाँ पर दुनियाभर की ऑटोमोबाइल कंपनियों ने अपनी-अपनी जबदरस्त फीचर और डिज़ाइन से लेस कारें उतारी हैं.

जेनेवा में चल रहे इंटरनेशनल मोटर शो में रोल्स रॉयस की यह कार लोगों के लिए सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र बनी हुए है और भाई बने भी क्यूँ न यह रोल्स रॉयस कार लगभग 6 करोड़ रूपये के 1 हज़ार हीरों के चूर से बनाये गये पेंट से जो रंगी गयी है. इस कार के पेंट को बनाने में 2 महीने का वक्त लगा है. इस कार को जिसने भी खरीदा है, उसके विशेष ऑर्डर पर यह पेंट किया गया है.

इस कार के पेंट को बनाने में 2 महीने का वक्त लगा है. इस कार को जिसने भी खरीदा है, उसके विशेष ऑर्डर पर यह पेंट किया गया है.

कार पर हीरे का पेंट करने के लिए हीरे के तमाम गुणों का अध्ययन किया गया। हीरा बेहद कठोर होता है। इसलिए सबसे बड़ी मुश्किल पेंट के बाद सतह को चिकना बनाने की थी। इसके लिए हैंड-पॉलिश से लाख की लेयर लगाई गई। अब हीरे की चमक बरकरार रखने के लिए कोई विशेष सावधानी बरतने की जरूरत नहीं है

 

loading...

Rajdeep Raghuwanshi

नमस्ते , मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूँ और मुझे एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और ह्यूमर पर लिखना पसंद है !

Skip to toolbar