अजीब क़स्बा : नहीं बचे मर्द, शादी को तरसती हैं यहाँ की लड़कियां

आप हर रोज़ दुनिया के कई अजीबो-गरीब जगह और किस्सों के बारे में सुनते होंगे पर आपने कभी ऐसे गाँव या कस्बे के बारे में सुना है. जहाँ मर्दों की संख्या बहुत ही कम हो और वहां की कुंवारी लड़कियां शादी के लिए तरसती हो.

हम आपको आज एक ऐसी ही गाँव के बारे में बताने जा रहे हैं जहाँ पर लड़कियां ही लड़कियां है वो भी कुंबारी जिनकी उम्र 18 से 30-35 साल तक है हम बात कर रहे है ब्राजील केनोइवा दो कॉरडिरो  कस्बे  के बारे में  जहाँ करीब 300 लड़कियां कुंबारी हैं  जिन्हें अपने सपने के राजकुमार नहीं मिल पर रहे हैं . करीब 600 महिलाओं वाले इस गांव में अविवाहित पुरुषों का मिलना बहुत मुश्किल है.

गाँव में मौजूद लड़कियां

क्या है कारण

यह कस्बा करीब 100 सालों से बाहरी दुनिया से कटा हुआ है.कस्बे की ज्यादातर महिलाओं की उम्र 20 से 35 साल के बीच है. नेल्मा फर्नांडिस ने बताया था कि कस्बे में रहने वाले सभी मर्द या तो शादीशुदा हैं या फिर उनके रिश्तेदार हैं. लड़कियां शादी तो करना चाहती हैं, लेकिन इसके लिए वे कस्बा नहीं छोड़ना चाहती हैं.

गाँव में मौजूद लड़कियां

लड़कियां चाहती हैं कि शादी के बाद लड़का उनके कस्बे में आकर उन्हीं के नियम-कायदों से रहे। मातृ सत्तात्मक इस कस्बे में खेती-किसानी से लेकर बाकी सभी काम महिलाएं ही संभालती हैं। ज्यादा महिलाओं के पति और 18 साल से बड़े बेटे काम के लिए कस्बे से दूर शहर में रहते हैं.

मजबूत महिला समुदाय की नींव मारिया सेनहोरिनहा डी लीमा ने रखी थी. उन्हें किन्हीं कारणों से साल 1891 में घर से निकाल दिया गया था. इसके बाद में उन्होंने इस गांव को आबाद किया.

source : naidunia

loading...
(Visited 311 times, 1 visits today)

Related posts:

Rajdeep Raghuwanshi

नमस्ते , मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूँ और मुझे एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और ह्यूमर पर लिखना पसंद है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar