क्या है Fastag ? सरकार ने 1 दिसम्बर से वाहनों पर किया अनिवार्य

सरकार ने देश में हाइवेज  को फ़ास्ट करने व ट्राफिक जाम जैसे समस्याओं से निपटने के लिए Fastag की व्यवस्था की है इससे सभी टोलबूथ पर लगने वाले जाम को कम किया जा सकेगा और ट्रैफिक की रफ्तार बढ़ाने के लिए मदद मिलेगी  है.  केन्द्र सरकार ने एक दिसंबर से सभी वाहन निर्माता और डीलर्स के लिए नए वाहनों पर फास्टैग लगाना अनिवार्य कर दिया हैं। इसकी जानकरी सडक़ और परिवहन मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी करके दी है।

अगर आप Fastag से अनजान है तो आइये जानते हैं इस बारे में ….

क्या होता है Fastag ?

फास्टैग एक ऐसा उपकरण है जिसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है। फास्टैग आपके कार के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है और यह प्रीपेड या संबंध बचत खाते से लिंक होता है। इसके प्रयोग से किसी भी टोल प्लाजा पर भुगतान के लिए रूके बिना निकलने की अनुमति होती हैं।

कहाँ से और  कैसे करें प्राप्त फास्टैग ?

source : google

फास्टैग को खरीदने के लिए आपको ज्यादा मशक्कत करने की जरूरत नहीं हैं। आप इसे एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, सिंडिकेट बैंक, एक्सिस बैंक, आईडीएफसी बैंक जैसे किसी भी आधिकारिक बैंक में आसानी से खरीद सकते हैं। आप इसे टोल प्लाजा और पेटीएम के जरीए भी खरीद सकते हैं।

किन कागजों की होगी जरूरत

फास्टैग खरीदने के लिए आपको अपनी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफि केट, पासपोर्ट फोटो, और किसी भी पहचान पत्र की फोटोकॉपी की आवश्यकता होगी।

कैसे करना होग रिचार्ज

फास्टैग को आप ऑनलाइन के्रडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या नेट बैंकिंग के जरिए रिचार्ज कर सकते हैं। इसके लिए आपको न्यूनतम 100 रुपए का रिचार्ज करना होगा। जबकि अधिकतम आपको एक लाख तक का रिचार्ज कर सकते हैं।

फास्टैग से क्या होगा आपको फायदा

अपने वाहन में फास्टैग लगाने से आपको टोल प्लाजा पर कैश नहीं ले जाना होगा। इसके प्रयोग से आपके समय की भी बचत होगी। नॉन-स्टॉप मूवमेंट से आपके गाड़ी में र्इंधन की भी बचत होगी। वहीं टोल प्लाजा पर ठहराव के लिए कम समय होने से पर्यावरण के लिए भी यह फायदेमंद होगा।

loading...

Rajdeep Raghuwanshi

नमस्ते , मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूँ और मुझे एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और ह्यूमर पर लिखना पसंद है !

Skip to toolbar