siteswebdirectory.comक्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब , जानें क्यों ....- Fadoo Post

आखिर क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब….

आपने अक्सर देखा होगा कि महिलाओं की ज्यादातर पोशाकों में जेब नहीं होती, और अगर होती भी है तो बस नाम मात्र की. शायद ही कोई सामान उनमें रखा जा सके, क्योंकि कुछ कपड़ों में सिर्फ जेब का डिजाइन बना होता है और वे भीतर की तरफ से सिली होती हैं. यह नाममात्र की या सिर्फ दिखाई देने वाली जेब भी पश्चिमी परिधानों में होती है यानी कि पैंट्स और ट्राउजर्स में. भारतीय कपड़ों की बात करें तो इनमें न तो जेब होती है और न ही जेब बनाने की गुंजाइश. यह और बात है कि भारतीय महिलाओं ने मोबाइल, छोटा बटुआ या चाबी जैसी छोटी-मोटी चीज संभालने के लिए उसे अपने ब्लाउज में फंसाकर रखने की एक तकनीक विकसित कर ली है. क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब

आखिर क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब….

 

 

क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब
Image Source : pinimg.com

ये भी पढ़े :

विदेशी हैं ये पॉपुलर पकवान, जाने किस देश से आयें है

 

दुनियाभर की महिलाओं के साथ हुए इस भेदभाव की एक वजह फैशन भी है. फैशन डिजाइनर महिलाओं के लिए उनकी सुविधा के बजाय उनके शरीर को सुंदर दिखाने के हिसाब से पोशाक डिजाइन करते हैं. हालांकि यह भी पुरुषवादी मानसिकता को दिखाता है, मानो महिलाएं सिर्फ सुंदर दिखें इससे ज्यादा उनकी कोई उपयोगिता ही नहीं है आधुनिक फैशन की शुरुआत से ही फैशन डिजाइनर महिलाओं के लिए बड़े गले, पतली कमर और नीचे से घेरदार स्कर्टनुमा ड्रेस डिजाइन करने लगे थे. यह चलन धीरे-धीरे महिलाओं की ड्रेसों से जुड़े फैशन की बुनियाद बन गया. इसके अनुसार महिलाओं के कपड़े उनके ब्रेस्ट-वेस्ट-हिप्स को उभारकर दिखाने वाले होने चाहिए.

क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब
Image source : alicdn.com

ये भी पढ़े :

ओह तेरी ,एस्टेरोइड से लटकी होगी दुनिया की सबसे ऊंची इमारत…

 

जेब की अनुपस्थिति महिलाओं को हमेशा अपने साथ पर्स रखने को मजबूर करती है. और फिर पर्स होगा तो उसका भी एक फैशन, एक अलग उद्धोग होगा. शायद इस फायदे के चलते फैशन जगत जेब के सवाल पर ध्यान नहीं देता. एक संभावना यह भी है कि बाद के फैशन डिजाइनरों ने जेब बनाने पर सिर्फ इसलिए ध्यान नहीं दिया होगा क्योंकि उनके मुताबिक जब महिलाएं अपने साथ पर्स रखती हैं तो फिर इसकी जरूरत ही क्या है.

क्यों नहीं होती महिलाओं के कपड़ों में ज़ेब
Image Source : healthandfashion.us

 

loading...
(Visited 159 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar