चार्ली चैपलिन की 128वीं जयंती पर बना ये ख़ास रिकॉर्ड

कॉमेडी की दुनिया का एक ऐसा शख्स जिस का चेहरा देखकर ही लोग हँस – हँस कर लोटपोट हो जाते थे. जिसकी ऊटपटांग हरकतों से गंभीर से गंभीर व्यक्ति भी हँस जाया करता था , ऐसा ही कुछ नाम था सर चार्ली चैपलिन. अपने अभिनय से लोगों को हंसाने वाले चार्ली चैपलिन की 128वीं जयंती पर उनके चाहने वालों ने स्विटज़रलैंड में एक विश्वरिकॉर्ड बनाया. जहाँ उन्होंने अपनी ज़िन्दगी के आखिरी दशक गुज़ारे थे.चार्ली चैपलिन की 128वीं जयंती पर बना ये ख़ास रिकॉर्ड…..

चार्ली चैपलिन लुक में नज़र आये 662 लोग
Image Source : thelocal

इस विश्वरिकॉर्ड में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक हर उम्र के लगभग 662 लोगो ने सर चार्ली चैपलिन की वेशभूषा पहन कर हिस्सा लिया. सभी 662 लोग चार्ली चैपलिन की तरह ही मेकअप करके पहुंचे. जिसमें उन्होंनें काला कोट और काले जूतें पहने, और साथ ही उनके चहरे पर टूथब्रश जैसी मूंछें सजी हुई थीं.चार्ली चैपलिन के कालजयी किरदार ‘द लिटिल ट्रैम्प’ जैसी छड़ी भी सबके हाथों में नजर आयी.

ऐसा हुआ आयोजन में
Image Source : euronews.com

इस कार्यक्रम का आयोजन दिग्गज अभिनेता के कोर्सियर-सर-वीवी स्थित पुराने घर में ही बने वर्ल्ड म्यूज़ियम में किया गया था. जिसमें चार्ली चैपलिन के प्रशंसक यूरोप के कोने-कोने से आए थे. म्यूज़ियम के प्रवक्ता एनिक बारबेज़ाट पेरिन ने समाचार एजेंसी एएफपी सी कहा कि, “इससे पहले भी प्रशंसक इसी तरह चार्ली चैपलिन बनकर एकत्र होते रहे हैं, लेकिन पहली बार एक कानूनी अधिकारी ने इसे प्रमाणित किया है”.

चार्ली चैपलिन की 128वीं जयंती पर बना ये ख़ास रिकॉर्ड…..

कुछ ख़ास चार्ली के बारे में
Image Source : basementrejects.com

चार्ली चैपलिन की सबसे ख़ास बात यह थी कि वो औरतों पर यकीन नहीं करते थे. चैपलिन की 4 पत्नियां और 11 बच्चे थे. चार्ली चैपलिन की मौत 25 दिसंबर 1977 को हुई जब वो 88 साल के थे. उनका कहना था कि ” मेरा दर्द किसी के हँसने की वजह बन सकता है ,लेकिन मेरी हँसी किसी के दर्द की वजह नही बन सकती”.

**** दम है तो हँसी रोक के दिखाओ ****

loading...

Brajendra Sharma

नमस्ते, मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे देशी-विदेशी, करियर, से जुड़ी स्टोरीज लिखना अच्छा लगता हैं एवं मुझे ऐसी स्टोरीज लिखना भी पसंद है जो आपको अच्छी लगें. इसलिए आप मुझें comment करके बता सकते हैं.

Skip to toolbar