सीएम योगी को मिली Z प्लस सिक्युरिटी, जानें Z प्लस सिक्युरिटी के बारे मे

उत्तर प्रदेश के नए CM योगी आदित्यनाथ Z प्लस सिक्युरिटी के बीच रहेगें. योगी आदित्यनाथ को यूनियन होम मिनिस्ट्री ने जेड प्लस सिक्युरिटी दी है. साथ ही उनके सुरक्षा घेरे में यूपी पुलिस के 4 सब इंस्पेक्टर और 1 असिस्टेंट कमांडेंट ऑफिसर भी रहेगें. सीएम योगी को मिली Z प्लस सिक्युरिटी……

सीएम योगी को मिली Z प्लस सिक्युरिटी…..

एडवांस्ड वेपन्स से लैस कमांडो 24 घंटे रहेगें उनके साथ

जेड प्लस कैटेगरी के तहत एडवांस्ड वेपन्स से लैस 25 से 28 कमांडो की टुकड़ी 24 घंटे उनके साथ रहेगी. जबकि वाई कैटेगरी में 2-3 कमांडो भी उनके साथ में चलते हैं. सीएम योगी के साथ सिग्नल जैमर्स से लैस एक पायलट और एस्कॉर्ट व्हीकल भी चलेगा.

योगी जी की सिक्युरिटी में अभी 400 से ज्यादा पुलिसवाले और एनएसजी कमांडो रहते हैं और सीएम हाउस की सिक्युरिटी 450 कमांडो के हाथों में रहेगी. योगी जब गोरखपुर के सांसद थे तब उन्हें वाई कैटेगरी की सिक्युरिटी दी गई थी.

क्या होती है Z प्लस सिक्यूरिटी :

Z प्लस सिक्यूरिटी में  36 जवान तैनात रहते हैं, ये जवान बिना हथियार के भी दुश्मन से मुकाबला कर सकते हैं. इन जवानों में 10 से ज्यादा एनएसजी कमांडो (मार्शल आर्ट माहिर) और सीआईएसएफ, आईटीबीपी, बीएसएफ या पुलिस के 22 जवान शामिल हैं, खतरा जेड कैटेगरी से ज्यादा हो तब जेड प्लस की सिक्युरिटी दी जाती है.

Z प्लस सिक्यूरिटी सीएम, कैबिनेट रैंक के मिनिस्टर्स, हाईकोर्ट- सुप्रीम कोर्ट के जज, उधोगपतियों, फिल्मकारों, खिलाडियों और कुछ ऑफिसर्स को ही दी जाती है. इसकी जिम्मेदारी यूनियन होम मिनिस्ट्री के अंडर में होती है और Z प्लस सिक्यूरिटी के लिए जरूरी गाइडलाइंस यूनियन होम मिनिस्ट्री से ही आती हैं.

UP में इनके पास है Z प्लस सिक्यूरिटी :

UP के गवर्नर रामनाईक, अखिलेश यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बसपा सुप्रीमो मायावती, पूर्व सीएम कल्याण सिंह, बीजेपी नेता विनय कटियार, बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी.

loading...

Brajendra Sharma

नमस्ते, मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे देशी-विदेशी, करियर, से जुड़ी स्टोरीज लिखना अच्छा लगता हैं एवं मुझे ऐसी स्टोरीज लिखना भी पसंद है जो आपको अच्छी लगें. इसलिए आप मुझें comment करके बता सकते हैं.

Skip to toolbar